Skip to main content

बहन को होटल में कुतिया बनाकर रगड़ा



Image result for bahan ki chudai


प्रेषक : रोहित …हैल्लो दोस्तों, आज में आप लोगों को एक कहानी सुनाने जा रहा हूँ। मेरी 2 बहने है और मेरी पहली बहन जिसका नाम नमिता है और वो 21 साल की है। दोस्तों मैंने अपनी बड़ी बहन नमिता की चुदाई की? लेकिन में आप लोगों को मेरी छोटी बहन सोनिया की चुदाई की दास्तान सुनाने जा रहा हूँ। 

Comments

Popular posts from this blog

दोस्त की नई नवेली दुल्हन की लाज तोड़ी

ल्लो दोस्तों, आप लोगों की तरह में भी पिछले कुछ सालों से लगातार कहानियाँ पढ़कर उनके मज़े लेता आ रहा हूँ और मुझे कई कहानियाँ अच्छी लगी और कई तो बहुत ही ज्यादा अच्छी लगी. दोस्तों मुझे पहले तो इन सबको पढ़कर ऐसा लगा कि कई लोग अपनी झूठी कहानियाँ लिखकर भेज देते है, लेकिन जब से यह हादसा मेरे साथ हुआ है, तब से में मान गया. दोस्तों यह मेरी पहली कहानी है, जो में आप सभी को सुनाने जा रहा हूँ और यह मेरा पहला सेक्स अनुभव है, तो फिर सुनो मेरी भी मन की सच्ची यह बात. दोस्तों मेरा नाम आनंद है, में 25 साल का हूँ और में केरल में रहता हूँ, मुझे कभी भी सेक्स में कोई भी रूचि नहीं थी, लेकिन मेरे एक दोस्त ने जब से मुझे एक ब्लूफिल्म दिखाई है, तब से मेरी यह हमेशा कोशिश रहती थी कि मुझे कोई ऐसा मिले, जिसके साथ में सेक्स कर सकूं, लेकिन में बहुत बार कोशिश करने के बाद भी कुछ नहीं कर सका. दोस्तों मेरी यह कहानी थोड़ी सी लंबी जरुर है, लेकिन आप लोग इसको थोड़ा ध्यान से पढ़ना. उन्ही दिनों मेरा एक बहुत अच्छा दोस्त जो उस समय मेरे पड़ोस में रहता था, उसकी शादी पक्की हो गयी और 15 दिनों के बाद में उसकी शादी भी हो गयी, लेकिन मे

अपनी बेटी की चूत फाड़ दी-2

गतांग से आगे … मै दो दिन तक उसका इंतजार करता रहा पर वो नहीँ आयी ,मै किसी को नहीं बता सकता था कि क्या हो गया है ?तीसरे दिन शाम को मेरे से नही रहा गया और मैं ड्रिंक करके रात को 9 बजे घर आया ,देखा तो मधु बैडरूम में रानी  कलर की साङी पहन कर सो रही थी  ,उसने बाल खुले कर रखे थे ,ब्लाउज़ में वो बहुत सुन्दर लग रही थी ,कमरे में नाईट बल्ब जल रहा था ,मैने अपना बैग रखा और मुह हाथ धोये और कपडे बद्ले ,गेट पर ताला मारा और फ़िर सीधा उसके पास गया। मैने उसके होंठों के ३-४ चुम्बनं ले लिए वो जाग गयी ,मैने उसकी वो शर्त पूरी कर दी थी | जैसे ही मैने मधु का  मुह चूमा ,उसने अपना मुँह घुमा कर मेरी तरफ़ देखा ,रात के 9 . 1 5 बजे थे ,मैं जैसे हि बिस्तर पर चढ़ने लगा उसने कहा पापा मैने खाना बना रखा है चलो खाना खा लो ,मैने भी नहीं खाया है ,उसने मेरे हाथ में रिमोट पकड़ाया और किचन में चली गयी ,इसके बाद हम दोनों ने खाना खाया ,और बैडरूम  में लेट गए ,मैं गर्मी के कारण बनियान और अंडरवियर मे ही था पर वो साड़ी  में थी ,फैन , फुल स्पीड पर था ,बारिश तो नही हो रही थी ,पर आसमान में रह रह कर बिजली चमक रही थी ,करीब 10 बजे मधु बायीं क

ससुर ने मुझे चोद प्रेग्नेंट कर दिया

आप सभी से अनुरोध है की आप मेरी पहली कहानी में कुछ हुई गलतियों को माफ़ करे और सिर्फ इसे एन्जॉय करे. मुझे नहीं पता ये कहानी आपको कैसी लगेगी लेकिन जैसी भी लगे कमेंट कर मुझे जरुर बताना. दोस्तों, मेरा नाम डॉली है। मैं भुज, गुजरात की रहने वाली हूँ। मेरी उम्र 26 साल है, ख़ूबसूरत और एक कसे हुए बद़न की मल्लिका हूँ। शादी से पहले मैंने कई लड़कों से चुदवाया था, पर शादी अपने घरवालों की मर्ज़ी से की। कहते हैं ना कि यह सच्चाई है कि एक बुद्धु को ख़ूबसूरत और ख़ूबसूरत को बद़सूरत जीवनसाथी मिलता है। मेरा पति बद़सूरत तो नहीं था, पर हाँ माँ का चमचाथा। मेरे ससुर फौज में रह चुके थे। मैं शादी की पहली रात ही निराश हुई, जब पति का लंड मेरे अनुमान से कम निकला। ऊपर से वह ख़ुद तक ही सीमित रहता। पाँच-छः मिनटों तक चोदता और अपना मतलब निकाल, पासा पलट कर सो जाता, और मैं सारी रात मछली की तरह तड़पती रह जाती। शादी को छः महीने हो गए। सास मुझसे कहती रहती कि तुम लोग बेबी कब करने वाले हो? मुझे जल्दी पोते-पोती का मुँह देखना है। मैं उनसे क्या कहती कि आपका बेटा किसी लायक़ ही नहीं है! बच्चा क्या आसमान से पेट में डलवा लूँ!